Saturday , 17 November 2018

विभिन्न विभागों की प्रगति की समीक्षा में वित्त मंत्री प्रकाश पन्त ने दिए जनहित योजनाओं को लागू करने के निर्देश

Home / don't Miss / विभिन्न विभागों की प्रगति की समीक्षा में वित्त मंत्री प्रकाश पन्त ने दिए जनहित योजनाओं को लागू करने के निर्देश
02_12_2017-prakashni_s

देहरादून  वित्त मंत्री प्रकाश पंत ने सोमवार को सचिवालय सभागार में विभिन्न विभागों की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने विभागों को जारी स्वीकृति के सापेक्ष भौतिक प्रगति का लक्ष्य तेजी से पूरा करने के निर्देश दिये।

वित्त मंत्री पंत ने सरकार द्वारा विभिन्न योजनाओं में जारी की गई धनराशि का उपयोग अधिक से अधिक लक्ष्य समूह को लाभान्वित करने के उद्देश्य से कार्य करने के निर्देश देते हुए पात्र लाभार्थियों को अधिक से अधिक लाभ देने की सम्भावना पता लगाने के निर्देश दिये। उन्होंने कामगार महिलाओं को पं.दीन दयाल उपाध्याय सामाजिक सुरक्षा कोष से लाभान्वित करने के लिए कॉरपस फंड बनाने का प्रस्ताव कैबिनेट में लाने के निर्देश दिए तथा इसमें धनराशि जुटाने के लिए  एक्साइज में लिए जाने वाले सेस की राशि को भी प्रस्ताव में लेने के निर्देश दिये।

वित्त मंत्री पंत ने किसानों की मृदा स्वास्थ्य कार्ड, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की समीक्षा के दौरान मृदा स्वास्थ्य कार्ड के लक्ष्य 5.85 लाख को अभियान के तहत हासिल करने के निर्देश दिये। उन्होंने पशु धन बीमा योजना की उपलब्धि को कम बताते हुए निर्धारित लक्ष्य 48 लाख को युद्ध स्तर पर पूरा करने हेतु ठोस रणनीति अपनाने के निर्देश दिये। वित्त मंत्री द्वारा प्रधानमंत्री ग्राम सडक योजना, महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा की गई।

चिकित्सा स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान अपर सचिव स्वास्थ्य श्री अरूणेन्द्र सिंह चैहान ने अवगत कराया कि दूरस्थ क्षेत्रों में विशेषज्ञ चिकित्सकों की उपलब्धता योजना में अब तक 924 चिकित्सा शिविर लगाये गये हैं तथा विशेषज्ञ चिकित्सकों की उपलब्धता योजना में 93 नियमित डॉक्टर तथा 140 अनुबंधित डाॅक्टर चिकित्सा सेवायें दे रहे हैं। इसके साथ ही 100 नये डॉक्टर शीघ्र उपलब्ध हो जायेंगे।

 

 

प्राविधिक शिक्षा की समीक्षा के दौरान सचिव डॉ.पंकज कुमार पाण्डेय ने बताया कि प्रदेश में 100 केन्द्रों के माध्यम से कौशल प्रशिक्षण दिया जा रहा है तथा 2000 युवाओं को कौशल विकास प्रशिक्षण दिया जा चुका हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश की कौशल विकास नीति का प्रारूप अधिक से अधिक स्वरोजगार उपलब्ध कराने के मध्य नजर तैयार किया जा रहा है, जिसमें विभागीय अधिकारियों एवं उद्योग बन्धुओं से भी विचार विमर्श किया गया है।

वित्त मंत्री पंत द्वारा राशन कार्डो का कम्प्यूटराइजेशन, राशन की दुकानो पर पी.ओ.एस. मशीन की आपूर्ति की अद्यतन प्रगति की समीक्षा भी की गयी तथा स्वच्छ भारत अभियान, पेयजल, युवा कल्याण, राजस्व सहित 32 अन्य विभागों की अद्यतन प्रगति की समीक्षा भी की गई।

बैठक में अपर मुख्य सचिव डॉ.रणवीर सिंह, प्रमुख सचिव राधा रतूडी, मनीषा पंवार, सचिव भूपेंदर सिंह औलख, सचिव अमित सिंह नेगी, दिलीप जावलकर, हरवंश सिंह चुघ, श्री अरविन्द सिंह ह्यांकी, विनय शंकर पाण्डे, रंजीत सिन्हा, अपर सचिव चंद्रेश कुमार, महानिरीक्षक जी.एस. मर्तोलिया सहित अन्य विभागों के विभागाध्यक्ष मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *