Thursday , 15 November 2018

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह ने गणतंत्र दिवस की झांकी के प्रतिभागियों को पुरुस्कृत किया

Home / don't Miss / मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह ने गणतंत्र दिवस की झांकी के प्रतिभागियों को पुरुस्कृत किया
CM2-300x224

देहरादून  मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने गुरूवार को सचिवालय स्थित मीडिया सेन्टर में गणतन्त्र दिवस पर नई दिल्ली में उत्तराखण्ड की ओर से प्रस्तुत झांकी के प्रतिभागियों से भेंट की। सूचना उपनिदेशक के.एस. चौहान के नेतृत्व में 34 सदस्यों के दल ने गणतन्त्र दिवस के अवसर पर राजपथ पर ग्रामीण पर्यटन एवं होम स्टे पर आधारित उत्तराखण्ड की झांकी का प्रदर्शन किया।

 

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि जब राजपथ पर उत्तराखण्ड की झांकी निकल रही थी, देश के प्रतिष्ठित व्यक्तियों द्वारा ग्रामीण पर्यटन एवं उत्तराखण्ड की संस्कृति पर आधारित इस झांकी की सराहना की गई। उत्तराखण्ड की झांकी की थीम विशिष्ट थी, जिसका उद्देश्य ग्रामीण पर्यटन एवं होम स्टे को बढ़ावा देना है। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में पर्यटक बदलाव चाहते हैं। उत्तराखण्ड के लोगों के स्वभाव एवं आत्मीयता के आधार पर प्रदेश में ग्रामीण पर्यटन एवं होम स्टे को बढ़ावा दिया जा रहा है। टिहरी, पिथौरागढ़ एवं लैंसडोन आदि स्थानों पर होम स्टे योजना से अच्छे प्रयास किये जा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि होम स्टे पर आधारित पर्यटन का प्रदेश में अच्छा स्कोप है। यह स्थानीय लोगों को कम खर्च पर अधिक आय भी देगा।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने उत्तराखण्ड के सांस्कृतिक दल को देश में प्रथम 03 राज्यों में चुने जाने एवं पुरस्कृत किये जाने पर भी बधाई दी। राजपथ पर उत्तराखण्ड की झांकी में प्रतिभाग करने वाले कलाकारों ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू, रक्षामंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण एवं जनजातीय मंत्री जुएल ओराम से नई दिल्ली में भेंट की।

सचिव सूचना डाॅ.पंकज कुमार पाण्डेय ने कहा कि उत्तराखण्ड राज्य बनने के बाद से 17 सालों में 10वीं बार राजपथ पर उत्तराखण्ड की झांकी दिखाई गई। ग्रामीण पर्यटन एवं होम स्टे की थीम पर आधारित गढवाली म्यूजिक के साथ प्रदर्शित इस झांकी की विशिष्ट पहचान की काफी सराहना की। उन्होंने कहा कि नई दिल्ली में उत्तराखण्ड के सांस्कृतिक दल को गुजरात एवं महाराष्ट्र सांस्कृतिक दल के साथ सर्वश्रेष्ठ 03 सांस्कृतिक दलों में चुने जाने पर पुरस्कृत किया गया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *