Thursday , 15 November 2018

उत्तराखंड सरकार ने प्रदेश में फिल्म की शूटिंग को किया शुल्क मुक्त, उत्तराखंड को देश-विदेश में पहचान दिलाना लक्ष्य

Home / don't Miss / उत्तराखंड सरकार ने प्रदेश में फिल्म की शूटिंग को किया शुल्क मुक्त, उत्तराखंड को देश-विदेश में पहचान दिलाना लक्ष्य
10_02_2018-shahidddn

टिहरी – उत्तराखण्ड का नैसगिृक सौन्दर्य देखकर देश के अधिक से अधिक फिल्म निर्माता उत्तराखण्ड में फिल्मों का निर्माण करेंगे ताकि उत्तराखण्ड की पहचान देश-विदेश में हो। इसको देखते हुए सरकार ने फिल्म की शूटिंग के लिये शुल्क नही लेने का निर्णय लिया है।

यह बात मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने शुक्रवार को नई टिहरी में फिल्म प्रोड्यूसर नितिन चन्द्रचूड एवं नारायण सिंह के निर्देशन में बनने वाली फिल्म ’’बिजली गुल मीटर चालू’’ के मुर्हुत के दौरान उपस्थित जनसामान्य को सम्बोधित करते हुए कही।

 

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि इस क्षेत्र में फिल्मों के निर्माण/फिल्मांकन हेतु व्यापक सम्भावनायें है।  आवश्यकता है उसको गहराई में देखने की। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड देवभूमि है। यंहा तीर्थ स्थलों के साथ ही साधकों की तपोस्थली भी है। जिसके बारे में इस क्षेत्र के सूदूर अॅचलों में जाने से जानकारी हो सकेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि टिहरी ने इस देश को बहुत कुछ दिया है। अब टिहरी के विकास के लिए कुछ करने का समय आया है। इसलिए जब फिल्म निर्माताओं के द्वारा उत्तराखण्ड में फिल्म निर्माण की इच्छा जताई गई तो सरकार ने टिहरी को पहली प्राथमिकता दिये जाये जाने की बात कही।

 

मुख्यमंत्री ने टिहरी के इतिहास के बारे में बताते हुए खेट पर्वत से लेकर सेम मुखेम गंगू रमोला तथा मलेथा के वीर भड माधौ सिंह के बारे में विस्तृत जानकारी फिल्म से जुडे लोगों को बताई। उन्होंने कहा कि टिहरी भिलंगना व भागीरथी नदियों का संगम रहा है और इस टिहरी बॅाध झील से यहां का इतिहास जुडा है। उन्होंने कहा कि फिल्मों की शूटिंग के लिये शुल्क अब नही लिया जायेगा। उन्होंने कहा कि भविष्य में फिल्म निर्माण से यंहा के लोगों को प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रुप से रोजगार मिलेगा। जिससे उनकी आर्थिकी में सुधार होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि टिहरी झील को भी फिल्मों की शूटिंग के लिये विकसित किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *